Tractor Gyan Blog

SHARE THIS

ऐसे उठाए फार्म मशीनरी बैंक योजना का लाभ, मिलेगी 80% सब्सिडी

आजकल खेती बिना मशीनों के कर पाना असंभव है, लेकिन प्रत्येक किसान खेती-बाड़ी में प्रयुक्त होने वाली मशीनों को नहीं खरीद सकता है। सरकार ने किराये पर मशीनों की उपलब्धता बढ़ाने और ग्रामीणों को रोजगार के लिए फॉर्म मशीनरी बैंक का गांवों में गठन किया जा रहा है, इसके लिए सरकार ने वेबसाइट, मोबाइल ऐप के जरिए किसान समूहों का गठन किया है।

                                           

फार्म मशीनरी बैंक खोलने पर मिलेगी 80% सब्सिडी:-

इकछुक ग्रामीण अपने इलाक़े फार्म मशीनरी बैंक खोलकर नियमित और अच्छी आय का जरिया खड़ा कर सकते हैं, इसके बाद इलाक़े के किसान फार्म मशीनरी बैंक से इंप्लीमेंट किराए पर खरीद सकते है। मशीनरी बैंक के लिए सरकार 80 फीसदी सब्सिडी के साथ कई और तरह की मदद भी कर रही है।

इस योजना के अंतर्गत सब्सिडी 10 लाख रुपए से लेकर 1 करोड़ रुपए तक प्रदान की जाएगी। फार्म मशीनरी बैंक योजना के अंतर्गत एक मशीनरी पर 3 साल में केवल एक बार ही सब्सिडी प्रदान दी जाएगी और 1 साल के अंतर्गत किसान तीन अलग तरह की मशीनों पर सब्सिडी ले सकता है।

फार्म मशीनरी बैंक खोलने की प्रक्रिया में सरकार अब तक 50,000 कस्टम हायरिंग केंद्र भी बना चुकी है, जिनके ऊपर इनके किर्यांवन की जिम्मेदारी होगी। अभी इस योजना को राजस्थान में पहले चरण में शुरू किया गया है जहां पहले आओ पहले पाओ के आधार पर सब्सिडी दी जा रही है।

 

पात्रता:-

●     आवेदक की उम्र 18 वर्ष या उससे ज्यादा होनी चाहिए।

●     इस योजना में आवेदन करने के लिए आवेदक को भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।

●     आधार कार्ड

●     पासपोर्ट साइज फोटो

●     मशीनरी के बिल की कॉपी

●     निवास प्रमाण पत्र

●     भामाशाह कार्ड

●     आयु प्रमाण पत्र

●     राशन कार्ड

●     बैंक खाते की पासबुक

●     जाति प्रमाण पत्र

 

 

आवेदन प्रक्रिया:- योजना का लाभ लेने के लिए आपको केंद्र सरकार के ऑनलाइन प्लेटफॉर्म डीबीटी एग्रीकल्चर मेकेनाईजेशन ऑनलाइन पर आवेदन करना होगा।

●     डीबीटी एग्रीकल्चर मेकेनाईजेशन की इस लिंक पर क्लिक करें - https://agrimachinery.nic.in/

●     अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।

●     होम पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन के टैब पर क्लिक करना होगा। रजिस्ट्रेशन के टैब पर क्लिक करने के बाद आपके सामने 4 कैटेगरी खुलकर आएंगी जो कि कुछ इस प्रकार है।

फार्मर

मैन्युफैक्चरर

एंटरप्रेन्योर

सोसाइटी/एसएचजी/ एफ पी ओ

●     आपको अपनी कैटेगरी के अनुसार ऊपर दी गई लिंक पर क्लिक करना होगा।

●     इसके पश्चात आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा। जिसमें पूछी गई सभी जानकारी जैसे कि नाम, जीएसटी नंबर, पता, मोबाइल नंबर आदि भरना होगा।

●     अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।

●     इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।

●     इस प्रकार आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

●     सबमिट करने के बाद आपकी स्क्रीन पर एक रेफरेंस नंबर आएगा जिसे आपको अपने पास संभाल कर रखना होगा।

आवेदन ट्रैक करने की प्रक्रिया:-

●     सबसे पहले आपको डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर इन एग्रीकल्चर मैकेनाइजेशन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।

●     होम पेज पर आपको ट्रैकिंग के टैब पर क्लिक करना होगा।

●     अब आपको ट्रैक "your application" के लिंक पर क्लिक करना होगा।

●     अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपना एप्लीकेशन नंबर दर्ज करना होगा।

●     जैसे ही आप अपना एप्लीकेशन नंबर दर्ज करेंगे आपका एप्लीकेशन स्टेटस आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

 

भविष्य में यह योजना बहुत लाभदायक सिद्ध होगी। इंप्लीमेंट निर्माताओं से लेकर किसानों को इससे बहुत फायदा होगा, आने वाले समय में योजना का विस्तार होगा, इसलिए लगातार योजना का अपडेट रखें और इसका लाभ उठाए।

Read More

 Mahindra sales down April 2020        

सरकार पर फूटा किसानों का गुस्सा।                                       

Read More

 Mahindra sales down April 2020       

International tractors limited(itl) has achieved highest ever domestic growth of 80% in August 2020

  Read More

Mahindra sales down April 2020        

Mahindra’s Farm Equipment Sector Sells 23,503 Units in India during August 2020                     

Read More

 

Write Comment About BLog.

Enter your review about the blog through the form below.



Customer Reviews

Record Not Found

blog

https://images.tractorgyan.com/uploads/1600433182-Diggi-constructed.jpeg

किसान डिग्गी अनुदान योजना: आप डिग्गी निर्माण कराएं, लागत का आधा खर्चा सरकार देगी।

कृषि में सिंचाई का क्या महत्व है ये हर किसान भली भांति समझता है। किसान जानता है कि अगर उसे सिंचाई के...

https://images.tractorgyan.com/uploads/1600412842-anger-of-the-farmers.jpeg

किसानों के आक्रोश के बीच तीनों कृषि विधेयक हुए पारित, जानें क्यों हो रहा है विरोध और सरकार क्या कह रही है।

पिछले एक दो महीने से किसान सरकार के जिन 3 अध्यादेशों के खिलाफ लगातार अपनी आवाज बुलंद कर रहें थे, जिन...

https://images.tractorgyan.com/uploads/1600235272-Pedi-Watch-App.jpeg

पेडी वॉच ऐप: क्या होगा जब बनेगा दुनिया का पहला ऐसा ऐप जो हर समय आपकी फसल की निगरानी करेगा।

क्या हो अगर ऐसी तकनीक बन जाए जिसकी मदद से यह जानकारी मिल जाए कि कितने क्षेत्र में कौनसी फसल है? द...